बंगलौर जलाने वाले दंगाईयों से यूपी स्टाइल में वसूली की तैयारी, छोड़े नहीं जायेंगे आतंकवादी

Also Read


11 अगस्त को कर्णाटक की राजधानी बेंगुलुरु में हुए हिंसा में दंगाईयों ने 300 के करीब गाड़ियों को जलाया और पुलिस स्टेशन पर भी हमला किया जिसमे 60 के आसपास पुलिस कर्मी घायल हुए।

कर्णाटक पुलिस ने अब इन दंगाईयों पर बड़ी कार्यवाही का मन बना लिया है, कर्णाटक पुलिस ने अबतक 100 से ज्यादा दंगाईयों को गिरफ्तार किया है और राज्य सरकार के मंत्री ने बयान दिया है की बंगलौर जलाने वाले दंगाईयों पर उसी तरह की कार्यवाही की जाएगी जैसा उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ करते है ।



कर्नाटक के गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा है कि लूटपाट, दंगा और आगजनी- ये सब आपराधिक कृत्य हैं। उन्होंने कहा कि लोग कुछ भी कहना चाहते हों, कोई भी माँग उठाना चाहते हों, उन्हें ये सब क़ानूनी रूप दे करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस को कार्रवाई के लिए खुली छूट दे दी गई है। उन्होंने आश्वस्त किया कि जिसने भी क़ानून को अपने हाथों में लिया है, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या ने दंगाइयों की संपत्ति जब्त करने की माँग की है।



मुजम्मिल पाशा के साथ SDPI के दो और नेता साथ थे जो लगातार लोगों को भड़का रहे थे। उसके सहयोगी नेताओं जफ़र और खलील ने मुस्लिम भीड़ को पत्थरबाजी करने और थाने के बाहर गाड़ियों को आग के हवाले करने के लिए भड़काया था। जहाँ पुलिस मुजम्मिल पाशा को गिरफ्तार करने में कामयाब रही है, वहीं बाकी 2 नेता फरार हो गए। सीसीटीवी फुटेज से भी इस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है ।




0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने