लव-जिहाद का अड्डा बनी कानपुर की जुहू कॉलोनी, हिन्दू लडकियों को प्रेम जाल में फँसाते है मुस्लिम लडके

Also Read


बीते दिनों कानपुर के बर्रा की रहने वाली शालिनी यादव नाम की लडकी घर से गायब हो गयी थी, और घर वाले इस लड़की को दो महीनो से खोज रहे थे, तब कुछ दिन पहले लड़की ने फेसबुक लाइव के माध्यम से बताया की उसने फैसल नाम के मुस्लिम लडके से शादी कर ली है, और वो उस लड़के को छह साल से जानती है । 



और फैसल कानपुर के लाल कॉलोनी का निवासी है, इसी तरह बीतो दिनों कानपुर के ही कल्याणपुर में 2 जुलाई को एक मुकदमा हुआ, जिसमें आवास विकास के दो सगी बहनों को शाहरुख और खलील नाम के दोनों लडको द्वारा भगा कर लाया गया था! दोनों लाल जूही कॉलोनी के निवासी हैं। तीसरा मामला पनकी रतनपुर कॉलोनी का है! यहां एक युवती और उसकी छोटी बहन को जूही लाल कॉलोनी के मोहम्मद मोसीन ने प्रेम जाल में फंसा लिया! जब छोटी बहन समय रहते सतर्क हो गई तो मामला खुल गया । 



इस साल विभिन्न थानों में दर्ज ऐसे मामलों के एक दर्जन आरोपी जूही लाल कॉलोनी के हैं! कहा जाता है कि इस कॉलोनी में, लव जिहाद के लिए नियमित प्रशिक्षण शिविर हैं! दर्ज मामलों के पीड़ितों के अनुसार, पुलिस केवल प्रेम के मामले के रूप में जांच का संचालन करती है! जब उन्होंने व्यक्तिगत प्रयासों के माध्यम से जांच की, तो पाया गया कि आरोपी युवक के कई लड़कियों के साथ संबंध थे! अगर पुलिस इस दिशा में जांच करती है और कॉल रिकॉर्ड की जांच करती है, तो कई बड़े रहस्य सामने आ सकते हैं!





0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने