तबलीगी जमात पर सख्त योगी सरकार, 7177 एफआईआर दर्ज, 211 विदेशियों के पासपोर्ट जब्त


तबलीगी जमात के लोगों खिलाफ अब उत्तर प्रदेश सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है। अभी तक कुल 7,177 एफआईआर दर्ज हुई है। प्रदेश में कुल 287 विदेशी नागरिकों को पकड़ा गया है, जिसमें से 211 के पासपोर्ट जब्त कर लिए गए हैं। तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों में यूपी के 429 लोगों का सैंपल भेजा गया है। उत्तर प्रदेश में फिलहाल कोरोना वायरस के कुल 121 संक्रमित पाए गए हैं।

यूपी के अडिशनल चीफ सेक्रेटरी (गृह) अवनीश अवस्थी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया, 'उत्तर प्रदेश में अभी तक कुल 121 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं। तबलीगी जमात से जुड़े 429 लोगों के सैंपल टेस्टिंग के लिए भेजे गए हैं। राज्य में कोरोना के मामले बहुत तेजी से नहीं बढ़ रहे हैं, कल से सिर्फ 8 ही मामले सामने आए हैं।

अवनीश अवस्थी ने यह भी बताया, 'अभी तक कुल 7177 एफआईआर दर्ज की गई है। उत्तर प्रदेश में 287 विदेशी नागिरक पकड़े गए हैं। इनमें से 211 के पासपोर्ट सीज कर दिए हैं।' इससे पहले लखनऊ में कई विदेशी नागरिकों को पकड़ा गया था, जिन्होंने दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। इन लोगों के खिलाफ वीजा नियमों का उल्लंघन करने का आरोप है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि जितने भी लोग सीधे तौर पर कोरोना वायरस संक्रमण से लड़ने में मदद कर रहे हैं, उनको डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ, एएनएम, नर्सों और आशा को प्रशिक्षण दिया जाए। इन सब की मदद से घर-घर जानकारी पहुंचाई जाए कि कैसे इस संक्रमण से बचाव करना है। सीएम योगी ने कहा, 'संक्रमण से बचने का सबसे अच्छा तरीका है .... सावधान रहना। सावधान रहकर, हाथ धोकर और सामाजिक मेलजोल में कमी करके हम इसका मुकाबला कर सकते हैं।'







नया पेज पुराने