65 साल की राबिया की कोरोना से मौत : CAA विरोध-प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाले हर लोग खौफ में!

Also Read


मध्य प्रदेश में बुधवार को कोरोना पीड़ित उज्जैन के जानसापुरा निवासी 65 वर्षीय महिला ने इंदौर के एक अस्पताल दम तोड़ दिया। 22 मार्च को बीमार हुई महिला को शुरुआत में उज्जैन के एक धर्मार्थ अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहाँ उसकी हालत में सुधार नहीं होने पर इंदौर के सरकारी अस्पताल महाराजा यशवंतराव में भर्ती कराया गया, लेकिन महिला ने बुधवार शाम करीब 5.30 बजे दम तोड़ दिया।



जिलाधिकारी (इंदौर) लोकेश कुमार जाटव ने मीडिया को बताया कि महिला को कोरोना पॉजीटिव था। इसके साथ ही महिला मधुमेह और साँस जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थी। शुरुआत में महिला को सर्दी और खाँसी के साथ साँस लेने में तकलीफ थी। लक्षणों को देखते हुए डॉक्टरों ने राबिया को इंदौर के एमवाई अस्पताल में भेज दिया, जहाँ हुई जाँच में उसे कोरोना पॉजीटिव पाया गया। हालाँकि मृतक महिला राबिया ने कोई विदेश की यात्रा नहीं की थी। हाँ, उसने उज्जैन में आयोजित सीएए विरोध में हिस्सा जरूर लिया था साथ ही इंदौर में एक शादी में भाग लिया था। इसके बाद उन लोगों में हड़कंप मच गया है, जिन लोगों ने सीएए विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया था या महिला से किसी न किसी रूप से करीब आए थे।



वहीं महिला की मौत के बाद प्रशासन ने उज्जैन और इंदौर शहर में कर्फ्यू लगा दिया है। साथ ही जहाँ महिला रहती थी, उसके निवास की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है। महिला की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग ने 40 लोगों की जाँच की है जो किसी न किसी तरह से महिला के संपर्क में आए थे। इस बीच महिला के 11 परिवार के सदस्यों की भी स्क्रीनिंग की गई, जिनमें से महिला की बहू और बेटे के साथ पाँच परिवार के सदस्य भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं




नया पेज पुराने