CAB नागरिकता कानून के विरोध में दिल्ली में कर्फ्यू जैसे हालात , देखे तस्वीरे

Also Read

नागरिकता कानून के खिलाफ संसद तक मार्च निकाल रहे जामिया के स्टूडेंट्स का प्रदर्शन उग्र हो गया. पुलिस ने छात्रों पर लाठियां बरसाईं और आंसू गैस के गोले दागे.

छात्र मार्च में आगे बढ़े तो बड़ी संख्या में जामिया के आसपास के इलाके के स्थानीय लोग भी इसमें शामिल हो गए. इससे भीड़ कई गुना बढ़ गई थी.



मार्च जैसे ही थोड़ा आगे बढ़ा, कुछ लोगों की पुलिस के साथ झड़प हो गई. भीड़ को तितर-बितर कराने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी दागे. इससे बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं घायल हो गए.

गुरुवार को राज्यसभा में पास होने के बाद राष्ट्रपति ने भी इस विधेयक में मुहर लगा दी थी. अब ये कानून में बदल चुका है. इस नये नागरिकता कानून को लेकर पूर्वोत्तर भारत में स्‍थिति तनावपूर्ण बनी हुई है. एनआरसी और नागरिकता कानून के खिलाफ ये रैली थी. संसद मार्च निकाल रहे थे, बैरीकेडिंग लगाकर रोका गया था. जामिया रोड पर अभी भी प्रोटेस्ट हो रहे हैं. 40 स्टूडेंट को हिरासत में लिया है. 30 लोग बदरपुर थाने में है, सरिता विहार में भी कुछ स्टूडेंट्स को ले गए हैं.





PIC Source - आजतक 

असम ही नहीं पूर्वोत्तर के दूसरे राज्‍यों के शहरों में भी बंद और कर्फ्यू के हालात हैं. यही नहीं उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ इलाके में सुबह प्रदर्शन के चलते प‍ुलिस ने चाक-चौबंद व्यवस्था की थी.




0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने