CAB पर सांसद रूपा गांगुली बोलीं- बुर्के में न भागती तो 'खान टाइगर' की बेगम बन जाती

Also Read


लोकसभा और राज्यसभा से नागरिकता संशोधन बिल पास होने पर उठे विवादों के बीच राज्‍यसभा सांसद रूपा गांगुली ने आपबीती सुनाते हुए बताया है कि अगर उस दिन वह बुर्के में ना भागती थीं ‘खान टाइगर’ की बेगम बन जातीं। रुपा गांगुली ने ये बातें अमित शाह के उस ट्वीट के जवाब में कही हैं जिसमें गृहमंत्री ने बिल का विरोध करने वालों पर निशाना साधा था। अमित शाह ने ट्वीट करते हुए लिखा था- मुझे समझ नहीं आता, चाहे सर्जिकल स्ट्राइक हो या एयर स्ट्राइक, चाहे 370 हो या CAB 2019, कांग्रेस पार्टी और पाकिस्तान के बयान हमेशा एक समान कैसे होते हैं।


इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए रुपा गांगुली ने लिखा- ‘काश मैं कह पाती। मैंने खुद क्या झेले हैं। मैं तो खान टाइगर की बेगम बन जाती जो मुझे किडनैप करने आए थे। अगर उस रात मैं और मेरी मां बुर्के में भाग नहीं पाती दिनाजपुर से। मैं क्‍लास 7 में पढ़ती थी। अमित शाह आपको क्‍या बताऊं। आज आप और नरेंद्र मोदी को कितने लोगों के आशीर्वाद मिले हैं।’




रुपा गांगुली ने ये भी लिखा कि, ‘हम कहां जाएंगे, अगर भारत हमें जगह न दे? कोई क्‍यों नहीं सोचेगा? हम कितनी बार बेघर होंगे? मेरे पिता को उनके देश में, कभी नारायणगंज, कभी ढाका, कभी दिनाजपुर में। हम कितनी बार अपने घरों को बदलेंगे? हमें कितनी बार एक शरणार्थी का जीवन जीना पड़ेगा? नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 का धन्‍यवाद।’


बिल का विरोध कर रहे विपक्ष के लिए रुपा गांगुली ने लिखा- मुझे यह देखकर आश्‍चर्य हो रहा है कि इस मुद्दे पर विपक्ष हंस रहा है…हरेक टिप्‍पणी का मजाक उड़ा रहा है…यहां तक कि वरिष्‍ठ महिला नेता भी…मैं उनके हावभाव को देख रही हूं…बेहद दुखद है….बेहद निराशाजनक।’


बता दें कि रुपा गांगुली पश्चिम बंगाल में बीजेपी की फायरब्रांड नेता हैं। रुपा गांगुली बीआर चोपड़ा के सीरियल महाभारत में द्रौपदी के किरदार में नजर आई थीं। इस किरदार ने उन्हें देश के घर-घर में लोकप्रिय कर दिया था। उसके बाद वह कुछ फिल्मों में भी नजर आईं। रुपा गांगुली ने आगे चलकर राजनीति मे कदम रखा और बीजेपी की सदस्य बन गईं। बीजेपी ने उन्हें राज्यसभा सांसद बनाया है।




0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने