इसाई स्कूल छोटे-छोटे बच्चों में कैसे ईसायत धर्म का प्रचार कर रही है, देखें विडियो.

Also Read


अभी भारत में धर्मांतरण जोरों पर  है और ईसाई मिशनरी  नए-नए हथकंडे अपना रहे है,हालाँकि मोदी सरकार ने इनपर लगाम लगाने के लिए सैकड़ों एनजीओ को बैन किया है जो गैर-कानूनी ढंग से भारत में ईसाइयत को बढ़ावा दे रहे है. नया मामला तेलंगाना राज्य के करीमनगर ज़िले से है.


जहाँ एक मिशनरी स्कूल छोटे-छोटे बच्चो को आउटिंग के नाम पर चर्च ले जाकर पूजा-प्रार्थना करवा रहे है जैसे ही ये घटना की खबर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् को पता चला वो फ़ौरन चर्च पहुंचकर स्कूल प्रशासन को रोका और मामला को थाने तक ले गए.छोटे बच्चो को ऐसे मिशनरी इसलिए टारगेट करते है ताकि बचपन से उनमे ईसाइयत की भावना हो और उनका झुकाव ईसाई  धर्म की ओर  हो,इससे पहले भी भारत में मिशनरियों पर आरोप लगता रहा है की सेवा-भाव के नाम पर ऐसे लोग धर्म-परिवर्तन कराते रहे है.


ज्ञात हो भारत में जबरन धर्म परिवर्तन करना कानूनी जुर्म है जिसको लेकर ईसाई मिशनरी ईसाइयत का प्रचार के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे है कहीं हिन्दू धर्म के जैसा ईशु हवन का आयोजन कहीं कलश रैली के जैसा क्रॉस रैली ऐसा करकर वो हिन्दू धर्म के उस तपके को लुभा रहे है जो ऐसे पूजा नित्य कर्म करते रहते है. 




0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने