क्या बांग्लादेश में हिन्दू होना इस्लाम के खिलाफ है| देखिये कैसे हो रहा है हिन्दुओ पर अत्याचार|

Also Read


बांग्लादेश में हिन्दू होना इस्लाम के खिलाफ है, आपको बता दे की बंलादेश का जन्म भारत के चलते ही हुआ जब भारत ने पाकिस्तान को 1971 के युद्ध में हराकर बांग्लादेश को आजाद करवाया था |

बांग्लादेश में हिन्दुओ पर अत्याचार होना आम बात नही है बल्कि हर दिन कही न कही बांग्लादेश के किसी हिस्से में हिन्दुओ के ऊपर अत्याचार हो रहा होता है |
बांग्लादेश भारत, नेपाल के बाद तीसरा बड़ा जनसँख्या वाला देश है जहाँ अभी हिन्दुओ की आबादी 8.9% है जो की 1941 में 28% और 1951 में 22% था|

भारत के बटवारे के पहले बांग्लादेश को पूर्वी बंगाल कहा जाता था बटवारे के बाद ये पाकिस्तान में चला गया और ये पक्षिमी पाकिस्तान हो गया उसके बाद भारत और पाकिस्तान के युद्ध के बाद इसे बांग्लादेश नाम पड़ा |


बांग्लादेश में इस्लामी कट्टरपंथी काफी सक्रिय है और हमेशा कभी भी, कही भी हिन्दुओ के ऊपर अत्यचार करते रहते है | बांग्लादेश में हिन्दू अपने त्यौहार नही मन सकते, उनके पास किसी प्रकार का अधिकार नही है| हिन्दुओ के घरो पे हमला होता है मंदिरों को तोडा जाता है इस्लाम के नाम पर वहां के मदरसों द्वारा लोगो को हिन्दुओ के खिलाफ हमला करने के लिए प्रेरित किया जाता है |

आइये देखते है बांग्लादेश के हिन्दुओ पर ZEE न्यूज़ की रिपोर्ट |




नया पेज पुराने